मूर्तन / अरुणाभ सौरभ


मूर्तन / अरुणाभ सौरभ
पत्तों पर बरखा बँदन की
टप-टप टघार
कारी बदरिया के सपने हज़ार
कमरतोड़ आई महँगाई की मार
हिन्दी-पट्टी का सूखा संसार
प्यार-मोहब्बत ना दिल का बुखार
कल्पना-लोक मे क्या करते हो यार…..??
यूटोपियन सुपरस्टार…


Leave a Reply

Your email address will not be published.